मुल्तानी मिट्टी के फायदे और नुकसान (Multani Mitti For Pimples, Multani Face Pack For Oily Skin In Hindi)

मुल्तानी मिट्टी सौंदर्य निखारने का सबसे सस्ता और आयुर्वेदिक नुस्खा है। मुल्तानी मिट्टी की सहायता आप अपने रूप को निखार कर आकर्षक बना सकते हैं। मुल्तानी मिट्टी सभी प्रकार के फेस पैक का बेस होती है। यानि Face Pack के रूप में इसका इस्तेमाल किया जाता है।  इसकी सहायता से आप अपने रूप को निखार कर आकर्षक बना सकती हैं।

मुहांसों की समस्या से परेशान लोगों के लिए मुल्तानी मिट्टी सबसे कारगर इलाज है। क्योंकि मुल्तानी मिट्टी चेहरे का तेल सोख लेती है। जिससे मुहासे सूख जाते हैं। साथ ही चर्म रोगों को दूर करने में और त्वचा को मुलायम रखने में बहुत सहायक होते हैं। मुल्तानी मिट्टी में कई प्रकार के मिनरल पाए जाते हैं।

मुल्तानी मिट्टी के फायदे (Benefits of Multani  Mitti In Hindi)

मुल्तानी मिट्टी में भरपूर मात्रा में मैग्नीशियम क्लोराइड होता है। जो चेहरे पर क्लींजर के रूप में काम करता है। अगर मुल्तानी मिट्टी को नियमित रूप से सही तरीके से इस्तेमाल किया जाए तो इससे चेहरे की गंदगी हट जाती है। और सारे बैक्टीरिया चेहरे से हट जाते हैं।

मुल्तानी मिट्टी के फायदे और नुकसान (Multani Mitti For Pimples, Multani Face Pack For Oily Skin In Hindi)

चेहरे पर टैनिंग हो या गहरा रंग होता जा रहा हो। तो मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल लाभकारी होता  है। परंतु इसे लगाने से या एक-दो दिन में तुरंत आराम नहीं मिलता  है। बल्कि इसका नियमित उपयोग करना पड़ता है। अगर चेहरे पर किसी प्रकार के दाग धब्बे हो या धब्बे होने लगे हो। तो भी मुल्तानी मिट्टी को बिना किसी समस्या के लगाया जा सकता है। यह सबसे उपयोगी होता है।

मुल्तानी मिट्टी के फायदे और नुकसान (Multani Mitti For Pimples, Multani Face Pack For Oily Skin In Hindi)

अगर आपकी त्वचा ऑयली है। तो आप के चेहरे के लिए मुल्तानी मिट्टी का पैक सबसे फायदेमंद रहेगा। हर दिन सुबह या शाम को समय निकालकर, इसे अपने चेहरे पर 5 मिनट के लिए लगाकर सुखाए। इससे ऑइली स्किन खत्म हो जाएगी और त्वचा सही हो जाएगी।
अगर आपकी त्वचा पर दाग धब्बे हो या किसी प्रकार के धब्बे पड़ने लगे तो मुल्तानी मिट्टी का उपयोग किया जा सकता है। इसे लगाने से त्वचा में चमक और रंगत आती है। मुल्तानी मिट्टी से स्किन टोन अच्छा होता है।

मुल्तानी मिट्टी का उपयोग चेहरे पर एक scrubberके रूप में भी किया जा सकता है। इससे आसानी से Blackheads  और Whiteheads निकल जाते हैं। त्वचा को किसी प्रकार का कोई नुकसान भी नहीं पहुचता है। त्वचा की नियमित देखभाल के लिए मुल्तानी मिट्टी का उपयोग सबसे बेहतर उपाय हैं

 

इस आर्टिकल में मै आपको कुछ मुल्तानी मिटटी से बने घरेलू नुस्को के बारे में आपको  बताउंगी। जिसके उपयोग से आप अपने चेहरे को सुंदर बना सकते हो।

ऑयली त्वचा के लिए फायदेमंद (Multani  Mitti  For Oily Skin In Hindi)

मुल्तानी मिट्टी तेलीय त्वचा के लिए बहुत ही अच्छी रहती हैं। मुल्तानी मिट्टी फेस पैक को बनाने के लिए आपको दो चम्मच मुल्तानी मिट्टी पाउडर में एक चम्मच ताजा दही और 2 से 3 बूंद नींबू का रस चाहिए। इन सब को अच्छे से मिलाकर एक लेप बना लीजिए। और फिर इसको अपने चेहरे पर फेस पैक की तरह लगा ले। फेस पैक पूरी तरह से सूखने के बाद ठंडे पानी से धो लें।pp
जरूर याद रखें यह कोई भी फेस पैक लगाने के बाद यानी  धोने के  बाद चेहरे पर अच्छा मोश्चराइजर जरूर लगाएं। यह फेस पैक आप दिन में तीन बार लगा सकते हैं।दही और नींबू का रस चेहरे के अत्यधिक तेल को साफ करने में मदद करता है। और मुल्तानी मिट्टी भी अधिक तेल को सोख लेती है।

मुहांसों को ठीक करने में सहायक (Multani Mitti for Acne In Hindi)

मुल्तानी मिट्टी मुहांसों को ठीक करने में भी बहुत कारगर साबित होती है। जैसे कि तेलीय त्वचा, खाने-पीने में बदलाव, नींद की कमी, शरीर में हार्मोन के असंतुलन होना। कारण कोई भी हो। परंतु मुहांसों को मुल्तानी मिट्टी के द्वारा कम किया जा सकता है। या पूरी तरह से हटाया भी जा सकता है।

मुंहासों पर लगाने के लिए मुल्तानी मिट्टी  का फेस पैक बनाने के लिए, एक चम्मच मुल्तानी मिट्टी पाउडर, एक चम्मच चंदन की लकड़ी का पाउडर  यानी चंदन पाउडर और गुलाब जल मिलाये। इसको चेहरे पर लगाये। इसको आप नहाने से पहले या बाद में इस्तेमाल कर सकते है। मुल्तानी मिट्टी चेहरे से तेल को कम करने में मदद करती है। चंदन और गुलाब जल त्वचा को ठंडक प्रदान करते हैं। जिससे मुहांसों को राहत मिलती है। और मुहासे निकलना भी कम हो जाते हैं।

त्वचा को सुंदर और चमकदार बनाने में सहायक (Multani Mitti For Glowing Skin In Hindi)

चमकती और दमकती त्वचा पाना हर लड़की की तमन्ना होती है। अगर यह घर बैठे – बैठे मुमकिन है। तो क्यों ना इस फेस पैक का उपयोग किया जाए। हर किसी की त्वचा चमक सकती है। बस फर्क इतना होता है कि कई बार चेहरे की ऊपरी परत मुरझाई हुई यानि जो डेड स्किन होती है। जिसे साफ होने में टाइम लगता है। वह Natural Beauty जल्दी नहीं दिखती है। धीरे धीरे आप अपने चेहरे पर चमक पा सकते हैं।

इस पैक को बनाने के लिए आप दो चम्मच मुल्तानी मिट्टी और गुलाब जल की जरूरत होती है। इन सबको आपस में अच्छे से मिलाकर चेहरे पर लगाएं। और सूखने के बाद साफ पानी से धो ले। इसे चेहरे पर हफ्ते में चार बार लगा सकते हैं।
टमाटर के रस में Antioxidents होते है। जो Dead Skin को दूर करने में सहायक होते हैं। और साथ ही साथ बेसन और मुल्तानी मिट्टी एक Natural Scrub का काम करती हैं। जिससे चेहरे की मुरझाई हुई यानी Dead Skin खत्म हो जाती है। और चेहरे पर ग्लो आ जाता है।

ब्लैकहेड्स और वाइटहेड्स को हटाने में सहायक(Multani Mitti Remove Blackheads And Whiteheads In Hindi)

हमारे चेहरे पर बहुत बारीक – बारीक छिद्र होते हैं। जिनका मुख्य काम होता है चेहरे की त्वचा को स्वस्थ हवा प्रदान करना। और इसकी वजह से हमारी स्किन को सांस लेने में बहुत मदद मिलती है। परंतु अगर इनकी सही तरह से देखभाल न की जाए तो इनमें गंदगी चली  जाती है।

जिसकी वजह से ब्लैकहेड्स और वाइटहेड्स हो जाते हैं। अगर इनको सही तरीके से न निकाला जाए। तो यह चेहरे पर भद्दे लगते हैं। और साथ ही साथ इन छिद्रों का आकार समय के साथ बड़ा होने लगता है। मुल्तानी मिट्टी का उपयोग करके आप इन ब्लैक हेड्स और वाइट  हेड्स को बहुत आसानी से निकाल सकते हो। वैगर त्वचा को किसी तरह का नुकसान पहुंचा कर।

मुल्तानी मिट्टी से चेहरे में खिंचाव भी आता है। जिससे चेहरे की झुर्रियां कम होने लगती है। इस पैक को बनाने के लिए मुल्तानी मिट्टी पाउडर और आधा चम्मच रवा यानि सूजी को अच्छे से मिलाकर पेस्ट बना ले। और पूरे चेहरे पर लगाये।  इस पेस्ट को चेहरे पर जहां – जहां पर Blackheads और Whiteheads है। इन पर हाथो के पोरो द्वारा मसाज करने के बाद। चेहरे पर इसे लगा रहने दे। जब तक सुख न जाये और फिर चेहरे को धो ले। सूजी और मुल्तानी मिट्टी ब्लैकहेड्स को निकालने में मदद करती है। और इसे चेहरे पर सूखने के लिए छोड़ दिया जाए। तो यह फेस पैक की तरह काम करती है। और चेहरे के छिद्रों को वापस अपने आकार में आने में मदद करती है।

 चेहरे से दाग धब्बे को हटाने में सहायक (Helping To Remove Stains From The Face)

दाग धब्बे चेहरे पर हो जाते हैं। जैसे कि मुहांसों के निशान, किसी चोट के दाग या फिर ज्यादा धूप में रहने से भी चट्टे पड़ जाते हैं। इन धब्बो को एक बार में नहीं हटाया जा सकता। परंतु अगर मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल आप कई बार करते हैं। तो यह दाग धब्बे कुछ समय के बाद हल्के हो जाते हैं। और पूरी तरह चले भी जाते हैं।

इस पैक को बनाने के लिए आपको चाहिए। दो चम्मच मुल्तानी मिट्टी, एक चम्मच पिसा हुआ पका पपीता, एक चम्मच जैतून का तेल। इन सब को मिलाकर एक पेस्ट बना ले। उसे चेहरे पर लगा लें। सूखने के बाद चेहरे को अच्छी तरह से धोले। पपीता दाग धब्बो को हल्का करने में मदद करता है। इस पैक को आप हफ्ते में दो से तीन बार लगा सकते हो।

मुल्तानी मिट्टी के नुकसान (Disadvantage Of Multani Mitti In Hindi)

मुल्तानी मिट्टी के नुकसान क्या है? इस बारे में अधिकतर लोग जानना चाहते हैं। क्योंकि मुल्तानी मिट्टी एक प्राकृतिक मिट्टी होती है। जो एक औषधि की तरह काम करती है। इसलिए मुल्तानी मिट्टी के नुकसान और कोई दुष्प्रभाव भी नहीं है। परंतु इसका इस्तेमाल करने से पहले आप को यह जरूर जान लेना चाहिए कि मुल्तानी मिट्टी का उपयोग आपके चेहरे के लिए ठीक है या नही। मुल्तानी मिट्टी सूखी त्वचा के लिए अच्छी नहीं मानी जाती है। इससे आपकी त्वचा रूखी और बेजान बन सकती है। इस दुष्प्रभाव को कम करने के लिए मुल्तानी मिट्टी में बादाम का दूध या गुलाब जल मिला सकते हैं।

मुल्तानी मिट्टी की प्रवृत्ति ठंडी होती है। इसलिए जब आपको सर्दी और खासी हो। तब इसका इस्तेमाल करने से बचना चाहिए। मुल्तानी मिट्टी से बनी चीजों का सेवन कभी नहीं करना चाहिए। इससे  पथरी जैसी गंभीर बीमारियां हो सकती है। मुल्तानी मिट्टी ज्यादा देर तक लगाए रखने से स्किन में सूखापन आ सकता है। क्योंकि यह  अक्सर स्किन की नमी को सोख लेती हैं।

आपको मेरा ही आर्टिकल कैसा लगा ? प्लीज कमेंट बॉक्स में बताना। इसके बारे में आपके पास और भी सुझाव हो इसके बारे में। तो जरूर कमेंट बॉक्स में जरुर शेयर करना। धन्यवाद।

Please follow and like us:

1 Comment

Add a Comment
  1. 👌👌👌👌

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *